वक़्त से गुज़ारिश…

वक़्त से यूँ ही की गुज़ारिश
थम जा ज़रा क्यों दौड़ रहा है ?
दिल की धड़कन ने दस्तक दी अचानक
रुक जाए समय अगर फिर जीवन ही कहाँ है।

Advertisements

One thought on “वक़्त से गुज़ारिश…

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s